महिलाओं ने घूंघट में खेली कबड्डी, बुजुर्ग पुरुषों ने धोती में लगाई दौड़, खेलों का अनूठा आयोजन

महिलाओं ने घूंघट में खेली कबड्डी, बुजुर्ग पुरुषों ने धोती में लगाई दौड़, खेलों का अनूठा आयोजन


जोधपुर. जोधपुर जिले के बिलाड़ा इलाके में हाल ही में एक अनोखे कार्यक्रम का आयोजन किया गया. यहां का मैदान अनोखा था. इस मैदान में उतरे खिलाड़ी भी कुछ अलग थे. उन खिलाड़ियों का अंदाज भी अलग था. मौका था एक मंदिर के जीर्णोद्धार कार्यक्रम का. इस दौरान जो अनोखी खेल प्रतियोगितायें (Unique sporting events) हुई उनको देखकर हर कोई बोल उठा ‘वाह वाह’. इस आयोजन में महिलाओं ने जहां घूंघट में कबड्डी खेली वहीं बुजुर्ग पुरुषों ने धोती में दौड़ लगाई. आयोजन की रोचकता को देखते हुये इसे देखने के लिये भारी भीड़ जुटी. यहां जींस पहने लड़कियों और घूंघट की आड़ में परंपराओ का निर्वाहन करने वाली महिलाओं में कबड्डी का जोरदार मुकाबला हुआ है.

यह अनूठा आयोजन हुआ जोधपुर के बिलाड़ा तहसील क्षेत्र में. यहां के भावी गांव में श्रीसती माता सीलूदेवी सारण के मंदिर के जीर्णोद्धार कार्यक्रम का आयोजन किया गया था. 7 दिन चलने वाले इस कार्यक्रम के दौरान गुरुवार को माहौल ऐसा था कि मानो जाट समाज के सारण गोत्र के लोगों का ओलंपिक आयोजित हो रहा हो. इस दौरान यहां कई तरह की प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया.

शुद्ध देशी तड़के वाले खेल और खिलाड़ी
यहां महिलाओं की 100 मीटर दौड़ हुई. उसमें 18 महिलाओं ने भाग लिया. बुजुर्गों की 100 मीटर की रेस हुई. उसमें 24 बुजुर्गों ने दमखम दिखाया. कुल मिलाकर शुद्ध देशी तड़के वाले खेल के इस मैदान में ग्रामीणों ने जमकर मस्ती की. दौड़ के दौरान किसी महिला का गिर जाना और हौसला न खोकर फिर उठकर दौड़ में दम दिखाना सबको भाया. शुक्रवार को खेल की शुरुआत महिलाओं की रेस से हुई. इसमें देवरानी जेठानी और ननद समेत अन्य महिलाओं ने घूंघट में दौड़ भी लगाई और कबड्डी भी खेली.

11 तरह की प्रतियोगितायें आयोजित की गई
भावी गांव में 14 अप्रेल को श्रीसतीमाता सीलूदेवी सारण मंदिर के जीर्णोद्धार का कार्यक्रम होना है. गुरुवार को शहीद भगत सिंह स्टेडियम में 11 तरह की प्रतियोगिता हुईं. महिलाओं की रेस में खास बात यह थी कि इसमें देवरानी, जेठानी और ननद को एक साथ दौड़ाया गया. महिलाओं की रेस में रुकमा देवी (40) पहले नंबर पर रही. शेणी देवी (42) दूसरे और सुमन (30) तीसरे नंबर पर रही. इनमें रुकमा देवी जेठानी और सुमन देवरानी हैं.

बुजुर्गों की दौड़ में ये रहे विजेता
बुजुर्गों की दौड़ में जुगराम सारण (52) पहले, खेताराम सारण (60) दूसरे और दयाराम सारण (65) तीसरे नंबर पर रहे. विजेताओं को 13 अप्रेल को होने वाले जागरण कार्यक्रम में सम्मानित किया जाएगा. महिलाओं की दौड़ में एक महिला गिर भी गई थी. लेकिन वह फुर्ती के साथ दुबारा उठी और दौड़ने लगी. इसके बाद जिंस पहनी लड़कियों और घूंघट वाली महिलाओं के बीच कबड्डी का रोमांचक मुकाबला हुआ.

Show Full Article
Next Story
Share it