New Zealand: आखिरी राउंड में जीत के लिए 20 रन की जरूरत थी और उन्होंने महज 5 गेंदों में मैच जीतकर इतिहास रच दिया।

 आयरलैंड दौरे पर 3 मैचों की वनडे सीरीज खेलने पहुंची न्यूजीलैंड की टीम ने पहले वनडे मैच के आखिरी ओवर के रोमांच में एक विकेट से जीत हासिल की.


नई दिल्ली: आयरलैंड दौरे पर 3 मैचों की वनडे सीरीज खेलने पहुंची न्यूजीलैंड की टीम ने पहले वनडे मैच के आखिरी ओवर के रोमांच में एक विकेट से जीत हासिल की. न्यूजीलैंड के लिये उसके हरफनमौला खिलाड़ी माइकल ब्रेसवेल ने दूसरी पारी के आखिरी ओवर की पांचवीं गेंद पर छक्का लगाकर अपनी टीम के एक गेंद पहले एक विकेट से जीत दिला दी. डबलिन में खेले गये इस मुकाबले में आयरलैंड की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए नौ विकेट के नुकसान पर 300 रन बनाए जिसके जवाब में न्यूजीलैंड ने 49.5 ओवर में नौ विकेट पर 305 रन बनाकर जीत दर्ज की.

सिर्फ 120 रन पर कीवी टीम ने खो दिये थे 5 विकेट

रनों का पीछा करने उतरी कीवी टीम की शुरुआत काफी खराब रही और उसने महज 120 रन के स्कोर पर अपने 5 विकेट खो दिये थे. टॉप ऑर्डर में सलामी बल्लेबाज मार्टिन गप्टिल (51) को छोड़कर कोई भी बैटर रनों का योगदान देने में कामयाब नहीं हुआ था. हालांकि गप्टिल के आउट होने के बाद माइकल ब्रेसवेल ने पारी को संभाला और महज 82 गेंद में नाबाद 127 रन बनाकर टीम को जीत दिला दी.

अपनी पारी के दौरान ब्रेसवेल ने 7 छक्के जड़े और 10 चौके लगाये. आयरलैंड की टीम के खिलाफ न्यूजीलैंड को जीत हासिल करने के लिये आखिरी ओवर में 20 रन की दरकार थी जबकि आयरिश टीम को सिर्फ एक विकेट चाहिये था या फिर 20 रन बचाने में कामयाब होना था. इस मैच से पहले वनडे क्रिकेट के इतिहास में कभी भी किसी टीम ने 20 रन का टारगेट चेज नहीं किया था, लेकिन ब्रेसवेल शायद दूसरे ही इरादों के साथ उतरे थे.

ब्रेसवेल ने आखिरी ओवर में 20 रन ठोंक दिलाई ऐतिहासिक जीत

ब्रेसवेल ने 50वें ओवर में क्रेग यंग की पहली दो गेंद पर चौका लगाया तो वहीं पर तीसरी गेंद को मिडविकेट के ऊपर से छक्के के लिये भेज दिया. चौथी गेंद पर ब्रेसवेल ने लेग साइड पर चौका मारा और पांचवीं गेंद को लान्ग ऑन के ऊपर से छक्के के लिए भेजकर टीम को जीत दिला दी.

इस जीत के साथ ही न्यूजीलैंड की टीम 50वें ओवर में 20 रन के लक्ष्य को सफलतापूर्वक हासिल करने वाली पहली टीम बन गई है. गौरतलब है कि ब्रेसवेल के तीन करीबी रिश्तेदार न्यूजीलैंड की राष्ट्रीय टीम के लिए पहले भी खेल चुके हैं. इससे पहले आयरलैंड के लिए हैरी टेक्टर ने चौथे नंबर पर बल्लेबाजी करते हुए अपना पहला एकदिवसीय शतक लगाया. टेक्टर के लिए यह शतक काफी भावनात्मक रहा क्योंकि उन्होंने पिछले हफ्ते ही अपनी दादी को खोया था. हेक्टर ने ब्लेयर टिकनर के ओवर में लगातार चार चौके लगाकर 109वीं गेंद पर शतक पूरा किया.

Show Full Article
Next Story
Share it