इंग्लैंड टेस्ट के लिए बुमराह को कप्तानी, ऋषभ पंत होंगे उपकप्तान

जसप्रीत बुमराह, कपिल देव के बाद भारत के पहले तेज गेंदबाज कप्तान होंगे. कपिल ने आखिरी बार सितंबर 1986 में टेस्ट क्रिकेट में भारत की कप्तानी की थी. यानी 36 साल बाद कोई तेज गेंदबाज टेस्ट क्रिकेट में टीम की कप्तानी करेगा.


इंग्लैंड टेस्ट के लिए बुमराह को कप्तानी, ऋषभ पंत होंगे उपकप्तान

नई दिल्ली: इंग्लैंड के खिलाफ 5 मैचों की टेस्ट सीरीज के आखिरी मुकाबले के लिए टीम में बदलाव किया गिया है. यह बदलाव कप्तान और उपकप्तान को लेकर किए गए हैं. नियमित कप्तान रोहित शर्मा के कोरोना पॉजिटिव होने के बाद टीम की कमान तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह को सौंपी गई है, जबकि ऋषभ पंत उपकप्तान होंगे.

यह मुकाबला पिछले साल हुई टेस्ट सीरीज का हिस्सा होगा. 2021 के अगस्त-सितंबर में टीम इंडिया और इंग्लैंड के बीच पांच टेस्ट होने थे. चार मैच हो चुके थे, लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों की वजह से इसे आगे बढ़ा दिया गया था. चार टेस्ट मैच में भारत 2-1 से आगे था. यह निर्णायक मुकाबला होगा.

हालांकि ऋषभ पंत को सेलेक्टर्स ने कप्तान नहीं बनाया, जबकि उनके पास आईपीएल में कप्तानी का अनुभव है. सेलेक्टर्स ने एक भी मैच में कप्तानी का अनुभव ना होने वाले बुमराह को इतने बड़े मैच के लिए कप्तान बनाना ज्यादा सही समझा. तर्क ये दिया गया कि बुमराह में भविष्य का कप्तान दिखता है.

क्यों चुने गए बुमराह (Jasprit Bumrah Test Captain)
भारतीय क्रिकेट इतिहास में ये लंबे समय के बाद देखने को मिला है कि कोई गेंदबाज टीम इंडिया का कप्तान बना है. इससे पहले कपिल देव टीम इंडिया के कप्तान बने थे. बुमराह गुजरात के तेज गेंदबाज हैं. उन्होंने अब तक 29 टेस्ट में 123 विकेट लिए हैं. वह दुनिया के सर्वश्रेष्ठ तेज गेंदबाजों में से हैं. चयन समिति के प्रमुख चेतन शर्मा ने पहले ही साफ किया था कि बुमराह भविष्य के कप्तान के रूप में तैयार किया जा रहा है.

क्यों पीछे रह गए पंत (Rishabh Pant Wise Captain Test Captain)
विकेटकीपर ऋषभ पंत का टेस्ट रिकॉर्ड ठीकठाक है. उन्होंने 30 टेस्ट मैच खेले हैं. 1920 रन है जिसमें 4 सेंचुरी, 9 हाफ सेंचुरी शामिल है. उनका औसत 40 था. जबकि वनडे में 24 मैच खेल चुके हैं. 33 के औसत से कुल 715 रन बनाए हैं. वहीं T-20 की बात करें तो 48 मैच में 23 के औसत से 741 रन हैं. हालांकि पंत नहीं चुने गए, इसके पीछे उनकी खराब फॉर्म ही है. उन्होंने आईपीएल-2022 में कई ऐसे मौके गंवाए जब टीम जीत सकती है. उनके कई फैसलों ने उन्हें टेस्ट कप्तानी की रेस से बाहर कर दिया.

ये है टीम इंडिया का टेस्ट स्क्वॉड
जसप्रीत बुमराह (कप्तान), ऋषभ पंत (विकेटकीपर), शुभमन गिल, मयंक अग्रवाल, विराट कोहली, श्रेयस अय्यर, हनुमा विहारी, चेतेश्वर पुजारा, केएस भरत (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, आर अश्विन, शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद शमी , मोहम्मद सिराज, उमेश यादव, प्रसिद्ध कृष्णा.

Show Full Article
Next Story
Share it