Logo

Cyrus Mistry की Mercedes कार में घुटनों के लिए भी था Airbag, इस गलती के कारण गई जान

Cyrus Mistry Death: साइरस मिस्त्री जिस Mercedes Benz GLC 220D कार में सफर कर रहे थे, उसमें यात्रियों के ऊपरी हिस्से ही नहीं, घुटनों के लिए भी एयरबैग था. इस गाड़ी में कम से कम 7 एयरबैग्स (ड्राइवर, पैसेंजर, 2 कर्टेन, ड्राइवर घुटना, ड्राइवर साइड, फ्रंट पैसेंजर साइड) मिलते हैं. 

 
Cyrus Mistry

Cyrus Mistry Car Accident: टाटा संस के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री की रविवार को सड़क हादसे में मौत हो गई. वह अपनी मर्सिडीज गाड़ी में मुबंई आ रहे थे. साइरस मिस्त्री की लग्जरी कार सड़क के डिवाइडर से टकरा गई थी, जिसमें कार की पिछली सीट पर बैठे मिस्त्री (54) और एक अन्य व्यक्ति जहांगीर पंडोले की मौत हो गई. अब शुरुआती जांच में उनकी मौत से जुड़े कई तथ्य सामने आ रहे हैं, जो बताते हैं कि कार में सफर करते समय हमारी जरा सी लापरवाही मौत का कारण बन सकती हैं. 

साइरस मिस्त्री जिस Mercedes Benz GLC 220D कार में सफर कर रहे थे, उसमें यात्रियों के ऊपरी हिस्से ही नहीं, घुटनों के लिए भी एयरबैग था. इस गाड़ी में कम से कम 7 एयरबैग्स (ड्राइवर, पैसेंजर, 2 कर्टेन, ड्राइवर घुटना, ड्राइवर साइड, फ्रंट पैसेंजर साइड) मिलते हैं. साथ ही तस्वीरों में यह भी देखा जा सकता है कि कार का फ्रंट हिस्सा बाहर से डैमेज है, लेकिन अंदर की तरफ बहुत ज्यादा नुकसान नहीं है. ऐसे में सवाल उठता है कि आखिर इतनी सुरक्षित गाड़ी में भी साइरस मिस्त्री की मौत कैसे हुई.  

इन वजहों से हुई मिस्त्री की मौत
जानकारी के मुताबिक, साइरस मिस्त्री और उनके सह-यात्री जहांगीर पंडोले पीछे की सीट पर बैठे हुए थे. जबकि महिला डॉक्टर अनाहिता पंडोले ड्राइव कर रही थीं और उनके पति डेरियस पंडोले आगे की सीट पर बैठे हुए थे. शुरुआती जांच में पता लगा है कि महिला डॉक्टर गाड़ी को तेज रफ्तार से चला रही थीं, जबकि पीछे बैठे दोनों लोगों ने सीट बेल्ट नहीं बांधी हुई थी. ऐसे में पीछे के एयरबैग्स खुलने में देरी हुई और साइरस मिस्त्री की जान चली गई. 

एक पुलिस अधिकारी ने पीटीआई को बताया, ‘‘प्रारंभिक जांच के अनुसार, तेज गति और निर्णय की त्रुटि के कारण कार दुर्घटना हुई. हादसे में जान गंवाने वाले दोनों लोगों ने सीट बेल्ट नहीं बांध रखी थी.’’ उन्होंने कहा, ‘‘चरोटी जांच चौकी पर लगे सीसीटीवी कैमरों के फुटेज देखने पर पालघर पुलिस ने पाया कि कार दोपहर करीब 2.21 बजे चौकी से गुजरी थी और दुर्घटना (मुंबई की दिशा में) 20 किलोमीटर आगे (ढाई बजे) हुई.’’

आप न करना ऐसी गलती
अक्सर देखा गया है कि भारत में लोग गाड़ी में पीछे बैठते समय सीट बेल्ट नहीं लगाते. ऐसा करना आपकी जान के लिए खतरा हो सकता है. साथ ही बहुत से लोग गाड़ी को गलत दिशा (Left) से ओवरटेक करते हैं. यह भी हादसे की एक बड़ी वजह होती है. आप इस तरह की गलती करने से बचें. 

ये ख़बर आपने पढ़ी देश की नंबर 1 हिंदी वेबसाइटNewsnineharyana.comपर